Home व्रत और त्यौहार Sakat Chauth 2020 : सकट चौथ पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

Sakat Chauth 2020 : सकट चौथ पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

723
0
SHARE

Sakat Chauth 2020 : सकट चौथ पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

sakat chauth 2020 date, sakat chauth 2020, sakat chauth puja vidhi, sakat chauth shubh muhurat, sakat chauth vrat 2020, sakat chauth ppujan vidhi, सकट चौथ 2020, सकट चौथ पूजा विधि, tilkut chauth2020, til chauth2020, sakat puja 2020, sakat chath vrat 2020

Sakat Chauth Puja Vidhi : हिन्दु धर्म में सकट चौथ व्रत का विशेष महत्त्व हैं| सकट चौथ में भगवान गणेश की पूजा होती हैं| यह व्रत माघ मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है| सकट चौथ को संकष्टी चतुर्थी, तिलकुट चौथ, तिल चौथ, माही चौथ भी कहते है| सकट चौथ अगर मंगलवार को पड़ती  इसे अंगारकी संकष्टी चतुर्थी कहते है| इसे बहुत शुभ माना जाता है|

सकट चौथ 2020 कब है (Sakat Chauth 2020 Date)

साल 2020 में सकट चौथ (Sakat Chauth 2020 Date) 13 जनवरी 2020 दिन सोमवार को मनाई जाएगी|

सकट चौथ व्रत का महत्व (Importance of Sakat Chauth)

यह व्रत स्त्रियाँ अपने संतान की दीर्घायु और सफलता के लिए करती हैं| इस व्रत के प्रभाव से संतान को रिद्धि-सिद्धि की प्राप्ति होती हैं तथा उनके जीवन में आने वाली सभी विघ्न-बाधाऐ गणेशजी दूर कर देते हैं| इस दिन स्त्रियाँ पूरे दिन निर्जल व्रत रखती हैं और शाम को गणेश पूजन और चन्द्रमा को अर्ध्य देने के बाद ही जल ग्रहण करती हैं|

माघ गुप्त नवरात्रि कब है 2019, कैसे करें नौ देवियों को प्रसन्न, जानें सरल पूजा विधि

सकट चौथ पूजा विधि (Sakat Chauth Puja Vidhi)

सकट चौथ व्रत में संकट हरण गणेशजी की पूजा होती हैं| साथ ही इस दिन चंद्रमा की भी पूजा की है| प्रातः काल नित्य क्रम से निवृत होकर गणेशजी की पूजा कर व्रत का संकल्प ले गणेशजी का ध्यान करते हुए इस मंत्र के साथ पुष्प अर्पित करे :-

गजाननं भूत गणादि सेवितं,कपित्थ जम्बू फल चारू भक्षणम्।

उमासुतं शोक विनाशकारकम्, नमामि विघ्नेश्वर पाद पंकजम्॥

इसके बाद पूरे दिन निर्जल व्रत करते हुए मन ही मन श्री गणेशजी के नाम का जप करे| फिर सूर्यास्त के बाद स्नान कर के स्वच्छ वस्त्र पहन ले| गणेश पूजन करते समय पूरब या उत्तर का मुख करके बैठ जाये और ध्यान रखें कि पूजा के दौरान गणेश जी के पीठ के दर्शन ना हो| अब एक चौकी पर पीला वस्त्र बिछाकर गणेश जी की प्रतिमा स्थापित करें| अब विधिवत गणेशजी का पूजन करे| एक कलश में जल भर कर रखे| पुष्प, रोली, मौली, अक्षत, दूर्वा फल, धूप दीप अर्पित करे| नैवेध के रूप में तिल तथा गुड़ के बने हुए लडडू अर्पित करे| इसके बाद संकष्टी चतुर्थी व्रत  अवश्य सुने और गणेश जी की आरती करें| ॐ श्री गणेशाय नम: के मंत्रो का जाप करना शुभ माना जाता है|

पुत्रवती स्त्रियाँ पुत्र की सुख सम्रद्धि के लिए व्रत रखती हैं| इस दिन तिल और गुड़ के लडडू का विशेष महत्त्व हैं| तिल के लडडू बनाने हेतु तिल को भूनकर गुड़ की चाशनी में मिलाया जाता है फिर तिलकुट का पहाड़ बनाया जाता है, कही-कही पर तिलकुट का बकरा भी बनाते हैं| तत्पश्चात गणेश पूजा करके तिलकुट के बकरे की गर्दन घर का कोई बच्चा काट देता हैं|

फिर गणेश पूजन के बाद चन्द्रमा को कलश से अर्ध्य अर्पित करे, धूप दीप दिखाए| चन्द्रमा से अपने घर परिवार की सुख और शान्ति के लिए प्रार्थना करे|

मौनी अमावस्या 2019, मौनी अमावस्या में करें ये उपाय मिलेगा अनंत गुना फल

सकट चौथ पूजन मुहूर्त (Sakat Chauth Pujan Muhurat)

* सकट चौथ 2020 (Sakat Chauth 2020 Date) : 13 जनवरी 2020 दिन सोमवार

* चतुर्थी तिथि का प्रारम्भ : 13 जनवरी 2020 दिन सोमवार को शाम 05 : 32 बजे

* चतुर्थी तिथि का समापन : 14 जनवरी 2020 दिन मंगलवार को दोपहर 2 : 49 बजे

* सकट चौथ चन्द्रदर्शन का समय : 13 जनवरी 2020 दिन सोमवार को रात 8 :33 बजे

आशा है कि आप सभी को यह Sakat Chauth Vrat 2020, Sakat Chauth 2020 Date, Sakat Chauth Puja Vidhi का लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

Happy Makar Sankranti Wishes in Hindi, SMS, Whatsapp Status, HD Images

Holidays List 2019 : उत्तर प्रदेश सरकार ने जारी की 2019 की छुट्टियों की लिस्ट

Grahan 2019 : साल 2019 में कब और कितने ग्रहण होंगे, पूरी जानकारी

Supermoon 2019 : साल 2019 में दिखेंगे लगातार तीन पूर्णिमा पर सुपरमून

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here