Home व्रत और त्यौहार ऋषि पंचमी व्रत 2019 तारीख, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि व व्रत...

ऋषि पंचमी व्रत 2019 तारीख, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि व व्रत कथा, Rishi Panchami 2019

2714
0
SHARE

ऋषि पंचमी व्रत 2019 तारीख, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि व व्रत कथा (Rishi Panchami 2019)

rishi panchami 2019, rishi panchami 2019 date, rishi panchami puja vidhi, rishi panchami vrat katha, rishi panchami, sapt rishi, rishi panchami kab hai, ऋषि पंचमी व्रत 2019, ऋषि पंचमी

Rishi Panchami 2019 -: ऋषि पंचमी व्रत भाद्र पद माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता हैं| ऋषि पंचमी का व्रत सभी के लिए फलदायी होता हैं| यह व्रत समस्त पापों का नाश करने वाला एवं श्रेष्ट फलदायी हैं| दोषों से मुक्त होने के लिए इस व्रत का पालन किया जाता हैं |जिसमें सप्त ऋषि की पूजा की जाती हैं| हिन्दू धर्म में माहवारी के समय बहुत से नियम कायदो को माना जाता हैं| अगर भूलवश इस समय कोई चूक हो जाती हैं तो महिलाओं को दोषमुक्त करने के लिए इस व्रत का पालन किया जाता हैं|

ऋषि पंचमी पूजा विधि (Rishi Panchami Puja Vidhi)

इसदिन प्रायः सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण करे या इस दिन पवित्र नदी में स्नान करने का भी विशेष महत्त्व हैं| इसके बाद घर के आंगन या पूजा स्थल को साफ़ सुथरा करके गोबर से चौक पूरा जाता हैं| फिर ऐपन से सप्त ऋषि बनाकर उनकी पूजा की जाती हैं| तत्पश्चात कलश की स्थापना करे फिर चन्दन का लेप लगाना चाहिए तत्पश्चात फल, फूल, नैवेद्य,श्वेत वस्त्र तथा यज्ञोपवीत अर्पित कर धूप दीप जलाकर विधिवत पूजा अर्चना करे इसके बाद ऋषि पंचमी व्रत की कथा सुननी व पढ़नी चाहिए|

स्त्रियों में महावारी का समय समाप्त होने पर अर्थात वृद्धावस्था में व्रत का उद्यापन किया जाता हैं|

ऋषि पंचमी उद्यापन विधि (Rishi Panchami

Udyapan Vidhi)

* महावारी के चले जाने पर इस व्रत का उद्यापन किया जाता हैं|

उद्यापन के समय भी इसी प्रकार विधिवत पूजा करने के बाद इस दिन ब्राह्मणों को भोजन करवाया जाता हैं|

सात ब्राह्मणों को सप्त ऋषि का रूप मान कर उन्हें दान दक्षिणा दिया जाता हैं|

यह व्रत दोषों की मुक्ति के साथ-साथ संतान प्राप्ति एवं सुख सुविधाओं की प्राप्ति और सौभाग्य के लिए भी इस व्रत का पालन किया जाता हैं |

ऋषि पंचमी व्रत कथा (Rishi Panchami Vrat Katha)

उत्तक नाम का एक ब्राह्मण था जो सुशीला नाम की अपनी पत्नी के साथ रहता था। उनकी बेटी, एक विधवा होने के नाते उनके साथ भी रहती है। एक रात को बेटी का शरीर कई चींटियों से ढका हुआ था जिसके कारण मां और पिता को चिंता हुई। इसलिए उन्होंने एक ऋषि को बुलाया जो उन्हें इस स्थिति से बाहर निकलने में मदद कर सकता था।

ऋषि जो इस मुद्दे को हल करने के लिए आए थे, एक ज्ञानी ऋषि थे और उन्होंने उल्लेखनीय घटना के पीछे कारण का उल्लेख किया। ऋषि ने उन्हें अपने पिछले जीवन में अपनी बेटी के पापों की याद दिला दी। ऋषि ने उन्हें बताया कि पिछले जन्म में वह अपने मासिक चक्र के दौरान रसोई में प्रवेश किया था। फिर ऋषि ने बेटी को कुछ अनुष्ठान करने और अपनी आत्मा और शरीर को शुद्ध करने के लिए ऋषि पंचमी के उपवास का पालन करने का सुझाव दिया ताकि वह अपने सभी वर्तमान और पिछले पापों से मुक्त हो सके।

सभी अनुष्ठानों और उपवास करने के बाद उसने पूरी तरह से अपनी आत्मा को सभी प्रकार के पापों और पिछले दोषों से शुद्ध किया। इस प्रकार इस कहानी ने ऋषि पंचमी के महत्व को समझाया और आत्मा, शरीर और दिमाग को शुद्ध करने के मार्ग के रूप में इसके महत्व को समझाया। इस व्रत के प्रताप से उसे अगले जन्म में पूर्ण सौभाग्य की प्राप्ति हुई|

ऋषि पंचमी कब है 2019 (Rishi Panchami 2019 Date)

ऋषि पंचमी भाद्र पद माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है| इस साल ऋषि पंचमी का त्यौहार 3 सितम्बर को मनाया जायेगा|

ऋ षि पंचमी शुभ मुहूर्त 2019 (Rishi Panchami Shubh Muhurat 2019)

ऋषि पंचमी 2019 (Rishi Panchami 2019 Date) : 3 सितम्बर 2019 दिन मंगलवार

पूजा का शुभ मुहूर्त : 11:05 AM से 13:36 PM तक

अवधि : 2 घंटा 31 मिनट

पंचमी तिथि का प्रारम्भ : 3 सितम्बर 2019 को 01:53 AM बजे

पंचमी तिथि का समापन : 3 सितम्बर 2019 को 11:27 PM बजे

आशा है कि आप सभी को यह Rishi Panchami 2019, Rishi Panchami 2019 Date, Rishi Panchami Puja Vidhi & Vrat Katha ऋषि पंचमी कब है 2019 का लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

Vijayadashmi 2019 : दशहरा 2019 कब है, जानें विजयादशमी शुभ मुहूर्त व महत्व

इस दिशा में घड़ी लगाने से होता है भारी नुकसान

घर में तिजोरी रखे इस दिशा में छप्पर फाड़ कर बरसेगा पैसा

सुहागन महिलायें गलती से भी किसी के साथ शेयर न करें अपनी ये चीजें वरना….

पूजा में आरती करने की सही विधि, Aarti Kaise Kare

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here