Home ग्रह नक्षत्र इलाहाबाद कुम्भ मेला 2019 कब से कब तक है, जानें शाही स्नान...

इलाहाबाद कुम्भ मेला 2019 कब से कब तक है, जानें शाही स्नान की तारीख – Kumbh 2019

452
0
SHARE

इलाहाबाद कुम्भ मेला 2019 कब से कब तक है, जानें शाही स्नान की तारीख (Kumbh 2019 Dates)

kumbh mela 2019, kumbh 2019, allahabad kumbh mela 2019, allahabad, kumbh, कुम्भ मेला 2019, कुम्भ 2019, kumbh mela 2019 date, kumbh mela 2019 date and place, kumbh mela 2019 in hindi

Kumbh 2019 : हिन्दू पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भारतवर्ष में कुम्भ मेले का बहुत ही ज्यादा महत्व हैं| ऐसा पौराणिक ग्रंथो में कहा गया है, जो व्यक्ति कुम्भ मेले में स्नान करता हैं वह व्यक्ति सभी पापों से मुक्त हो जाता है और मृत्यु के पश्च्यात बैकुंठ धाम में वास करता हैं| इस बार इलाहबाद की पावन धरती पर 50 दिनों के लिये कुंभ मेले का आयोजन 14 जनवरी 2019 से 4 मार्च 2019 तक होगा|

वैसे तो कुम्भ का मेला हर 12 साल में आता है, और दो बड़े कुम्भ मेलों के बीच आने वाले कुम्भ को अर्धकुम्भ कहा जाता है| इस बार साल 2019 में आने वाला कुम्भ का मेला दरअसल, अर्धकुम्भ ही है|  लेकिन जिस प्रकार शान और शौकत से इस अर्धकुम्भ मेले की तैयारियां चल रही हैं, उसे देखकर यह कहा जा सकता है कि यह पूर्णकुम्भ मेला हैं| क्योंकि इस अर्धकुम्भ मेले की छठा देखते ही बनती है| हर बार की तरह इस अर्धकुम्भ मेले के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने कुछ कठोर नियम लागू किये है ताकि मेले को बिना किसी अनहोनी के सुचारु रूप से संचालित किया जा सके|

हिंदू धर्म में कुम्भ मेले का विशेष महत्त्व है और इसे एक महत्‍वपूर्ण पर्व के रूप में भारत में मनाया जाता है, जिसमें देश-विदेश से सैकड़ों श्रद्धालु कुम्भ पर्व स्थल हरिद्वार, इलाहाबाद, उज्जैन और नासिक में स्नान करने के लिए एकत्रित होते हैं और अपनी मन की मुराद को पूरा करते है| कहा जाता है की कुम्भ के मेले में आना और स्नान करने से आपकी सारी मनोकामना पूरी होती हैं इसलिए लाखों श्रद्धालु कुंभ के मेले में आते हैं और माँ गंगा से अपना मन चाहा वरदान पाते हैं| कुंभ का संस्कृत अर्थ कलश होता है। हिंदू धर्म में कुंभ का पर्व होली या दीपावली के त्यौहार के बराबर ही मान्यता रखता हैं|

प्रयाग में दो कुंभ मेलों के बीच छह वर्ष के अंतराल में अर्धकुंभ भी होता है। कुंभ का मेला मकर संक्रांति के दिन प्रारम्भ होता है। इस दिन जो योग बनता है उसे कुंभ स्नान-योग कहते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार मान्‍यता है कि किसी भी कुंभ मेले में पवित्र नदी में स्‍नान या तीन डुबकी लगाने से सभी पुराने पाप धुल जाते हैं और मनुष्‍य को जन्म/पुनर्जन्म तथा मृत्यु/मोक्ष की प्राप्‍ति होती है।

जानें कब है मकर संक्रांति 14 जनवरी या 15 जनवरी एवं महापुण्य काल का शुभ मुहूर्त

अगले साल संगम नगरी इलाहाबाद में लगने वाले कुंभ मेले के शाही स्‍नान की तारीख का ऐलान हो चुका है। यदि आप भी अगले साल कुंभ मेले में स्‍नान करने की सोच रहे हैं तो यहां जानें शाही स्नान की तारीख के बारे में:-

2019 कुंंभ मेले की शाही स्नान की तारीख:-

  • 14-15 जनवरी 2019 : मकरसंक्रांति ( पहला शाही स्नान )
  • 21 जनवरी 2019      : पौष पूर्णिमा
  • 31 जनवरी 2019      : पौष एकादशी स्नान 
  • 4 फरवरी 2019        : मौनी अमावस्या ( मुख्य शाही स्नान , दूसरा शाही स्नान )
  • 10 फरवरी 2019      : बसंत पंचमी ( तीसरा शाही स्नान )
  • 16 फरवरी 2019      : माघी एकादशी 
  • 19 फरवरी 2019      : माघी पूर्णिमा 
  • 4 मार्च 2019            : महा शिवरात्री 

कुम्भ मेला के लिए ऑनलाइन बुकिंग (Kumbh Mela 2019 Booking)

कुम्भ मेला के लिए ऑनलाइन बुकिंग मोबाइल एप्प और आधिकारिक साइट द्वारा की जा सकती है|

आशा है कि आप सभी को यह लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

Holidays List 2019 : उत्तर प्रदेश सरकार ने जारी की 2019 की छुट्टियों की लिस्ट

Grahan 2019 : साल 2019 में कब और कितने ग्रहण होंगे, पूरी जानकारी

अंक ज्योतिष भविष्यफल 2019 : जानें कैसा रहेगा साल 2019

Supermoon 2019 : साल 2019 में दिखेंगे लगातार तीन पूर्णिमा पर सुपरमून

मोर पंख के चमत्कारी उपाय जो खोल देगा किस्मत के दरवाजे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here