Home आरती संग्रह हर छठ मैया की आरती | Har Chhath Maiya Ki Aarti |...

हर छठ मैया की आरती | Har Chhath Maiya Ki Aarti | जय छठी मईया

2838
0
SHARE

हर छठ मैया की आरती | Har Chhath Maiya Ki Aarti | जय छठी मईया

chhathi maiya ki aarti, chhat maiya aarti, chhath mata aarti hindi, har chhath mata aarti, छठी मैया की आरती, जय हो छठी मैया, chhath puja, har chhat maiya ki aarti, harchat mata ki aarti, chhathi maiya,हर छठ मईया की आरती

हर छठ मैया की आरती (Har Chhath Maiya Ki Aarti)

जय छठी मईया
ऊ जे केरवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए।
मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए॥जय॥

ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय।
ऊ जे नारियर जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए॥जय॥

मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए।
ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय॥जय॥

अमरुदवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए।
मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए॥जय॥

ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय।
शरीफवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए॥जय॥

मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए।
ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय॥जय॥

ऊ जे सेववा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए।
मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए॥जय॥

ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय।
सभे फलवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए॥जय॥

मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए।
ऊ जे सुगनी जे रोएली वियोग से, आदित होई ना सहाय॥जय॥

सम्बंधित लेख :

छठी मैया की आरती |गणेश जी की आरतीहनुमान जी की आरतीसाई बाबा की आरतीतुलसी जी की आरती | लक्ष्मी जी की आरती श्री राम जी की आरती | श्री सत्यनारायण जी की आरती | शीतला माता की आरती | अम्बे माँ की आरती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here