Home व्रत और त्यौहार हलषष्ठी 2020 तारीख, पूजा का शुभ मुहूर्त, Hal Sashti 2020 Date

हलषष्ठी 2020 तारीख, पूजा का शुभ मुहूर्त, Hal Sashti 2020 Date

94
0
SHARE

हलषष्ठी 2020 तारीख, पूजा का शुभ मुहूर्त, Hal Sashti 2020 Date

hal sashti, hal sashti 2020, hal sashti date, hal sashti time, hal chat, hal chat 2020, hal chat date, hal chat time, hal sashti vrat, hal chat vrat,हलषष्ठी , हलषष्ठी 2020, हलछट , हलछट 2020

Hal Sashti 2020 Date :-  भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की षष्ठी को यह पर्व भगवान श्रीकृष्ण के ज्येष्ठ भ्राता श्री बलरामजी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इसी दिन श्री बलरामजी का जन्म हुआ था। यह व्रत संतान की लम्बी आयु के लिए माताओं द्वारा रखा जाता है। इसे हरछठ, हलछठ के नाम से भी जाना जाता है|

हिंदू पंचांग में हल षष्ठी एक महत्वपूर्ण त्यौहार है। यह भगवान श्रीकृष्ण के बड़े भाई बलराम को समर्पित है। भगवान बलराम माता देवकी और वासुदेव जी के सातवें संतान थे। हल षष्ठी का त्योहार भगवान बलराम की जयंती के रूप में मनाया जाता है। रक्षा बंधन और श्रवण पूर्णिमा के छह दिनों के बाद बलराम जयंती मनाई जाती है। इसे राजस्थान जैसे अन्य राज्यों में विभिन्न नामों से जाना जाता है, इसे गुजरात में चंद्र षष्ठी के रूप में जाना जाता है, और ब्रज क्षेत्र में बलदेव छठ को रंधन छठ के रूप में जाना जाता है। भगवान बलराम को शेषनाग के अवतार के रूप में पूजा जाता है, जो क्षीर सागर में भगवान विष्णु के हमेशा साथ रहिने वाली शैया के रूप में जाने जाते हैं।

हलषष्ठी/ हरछठ पूजा विधि (Hal Sashti Puja Vidhi) :-

  1. प्रातःकाल स्नानादि से निवृत्त हो जाएं।
  2. पश्चात स्वच्छ वस्त्र धारण कर गोबर लाएं।
  3. इस तालाब में झरबेरी, ताश तथा पलाश की एक-एक शाखा बांधकर बनाई गई ‘हरछठ’ को गाड़ दें।
  4. तपश्चात इसकी पूजा करें।
  5. पूजा में सतनाजा (चना, जौ, गेहूं, धान, अरहर, मक्का तथा मूंग) चढ़ाने के बाद धूल, हरी कजरियां, होली की राख, होली पर भूने हुए चने के होरहा तथा जौ की बालें चढ़ाएं।
  6. हरछठ के समीप ही कोई आभूषण तथा हल्दी से रंगा कपड़ा भी रखें।
  7. पूजन करने के बाद भैंस के दूध से बने मक्खन द्वारा हवन करें।
  8. तत्पश्यात कथा कहें अथवा सुनें।

हलषष्ठी/हरछठ 2020 शुभ मुहूर्त (Hal Sashti 2020 Shubh Muhurat)

हलषष्ठी 2020 (Hal Sashti 2020 Date) : 09 अगस्त 2020 दिन रविवार

षष्ठी तिथि का प्रारम्भ : 9 अगस्त 2020 को 04:18 AM बजे से

षष्ठी तिथि का समापन : 10 अगस्त 2020 को 06:42 AM बजे तक

आशा है कि आप सभी को यह हलषष्ठी  2020, हलषष्ठी  कब है  2020 का लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

हलषष्ठी, हरछठ व्रत कथा

पूजा में आरती करने की सही विधि, Aarti Kaise Kare

ऋषि पंचमी व्रत 2020 तारीख, पूजा का शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि 2021 तारीख, पूजा का शुभ मुहूर्त

कजली तीज व्रत कथा, Kajali Teej Vrat Katha

कजरी तीज 2020 तारीख, पूजाविधि, पूजा का शुभ मुहूर्त

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here