Home हेल्थ डेंगू बुखार के कारण, लक्षण एवम उपचार | Dengue Fever Symptoms, Precautions,...

डेंगू बुखार के कारण, लक्षण एवम उपचार | Dengue Fever Symptoms, Precautions, Treatment in Hindi

40
0
SHARE

डेंगू बुखार के कारण, लक्षण एवम उपचार | Dengue Fever Symptoms, Precautions, Treatment in Hindi

मादा एडीज इजिप्टी मच्छर, मच्छर, डेंगू, dengue, mosquito, DHF, DSS, CLASSIC DENGUE FEVER

Dengue Fever :-

Dengue Fever : आज की इस दुनिया में डेंगू अपने पांव एक भयंकर राक्षस की तरह पसार चुका है। शुरुआत में 

मादा एडीज इजिप्टी मच्छर, मच्छर, डेंगू, dengue, mosquito, DHF, DSS, CLASSIC DENGUE FEVER

सामान्य-सा लगने वाला यह बुखार देरी या गलत इलाज से जानलेवा साबित हो सकता है। वक्त पर सही इलाज हो तो हालात कंट्रोल में रहते हैं। डेंगू मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। इन मच्छरों के शरीर पर चीते जैसी धारियां होती हैं। मादा एडीज इजिप्टी मच्छर सामान्यतः बहुत उचाई तक नहीं उड़ पाते हैं ( कमर से ऊपर नहीं )| ये मच्छर दिन में, खासकर सुबह काटते हैं। डेंगू बरसात के मौसम और उसके फौरन बाद के महीनों यानी जुलाई से अक्टूबर में सबसे ज्यादा फैलता है क्योंकि इस मौसम में मच्छरों के पनपने के लिए अनुकूल परिस्थितियां होती हैं। 

कितने तरह का होता है डेंगू :-

  यह तीन तरह का होता है-

1. क्लासिकल (साधारण) डेंगू बुखार

2. डेंगू हैमरेजिक बुखार (DHF)

3. डेंगू शॉक सिंड्रोम (DSS)

इन तीनों में से दूसरे और तीसरे तरह का डेंगू सबसे ज्यादा खतरनाक होता है। साधारण डेंगू बुखार अपने आप ठीक हो जाता है और इससे जान जाने का खतरा नहीं होता लेकिन अगर किसी को DHF या DSS है और उसका फौरन इलाज शुरू नहीं किया जाता तो जान जा सकती है। इसलिए यह पहचानना सबसे जरूरी है कि बुखार साधारण डेंगू है, DHF है या DSS है।

लक्षण :-

-ठंड लगने के बाद अचानक तेज बुखार चढ़ना

-सिर, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना

-आंखों के पिछले हिस्से में दर्द होना, जो आंखों को दबाने या हिलाने से और बढ़ जाता है

-बहुत ज्यादा कमजोरी लगना, भूख न लगना और जी मितलाना और मुंह का स्वाद खराब होना

-गले में हल्का-सा दर्द होना

-शरीर खासकर चेहरे, गर्दन और छाती पर लाल-गुलाबी रंग के रैशेज होना

क्लासिकल साधारण डेंगू बुखार ( Dengue Fever ) करीब 5 से 7 दिन तक रहता है और मरीज ठीक हो जाता है। ज्यादातर मामलों में इसी किस्म का डेंगू बुखार होता है।

इलाज :-

-अगर मरीज को साधारण डेंगू बुखार है तो उसका इलाज व देखभाल घर पर की जा सकती है।

-डॉक्टर की सलाह लेकर पैरासिटामोल (क्रोसिन आदि) ले सकते हैं।

-एस्प्रिन (डिस्प्रिन आदि) बिल्कुल न लें। इनसे प्लेटलेट्स कम हो सकते हैं।

-अगर बुखार 102 डिग्री फॉरेनहाइट से ज्यादा है तो मरीज के शरीर पर पानी की पट्टियां रखें।

-सामान्य रूप से खाना देना जारी रखें। बुखार की हालत में शरीर को और ज्यादा खाने की जरूरत होती है।

-मरीज को आराम करने दें।

मरीज में DSS या DHF का एक भी लक्षण दिखाई दे तो उसे जल्दी-से-जल्दी डॉक्टर के पास ले जाएं। DSS और DHF बुखार में प्लेटलेट्स कम हो जाती हैं, जिससे शरीर के जरूरी हिस्से प्रभावित हो सकते हैं। डेंगू बुखार के हर मरीज को प्लेटलेट्स चढ़ाने की जरूरत नहीं होती, सिर्फ डेंगू हैमरेजिक और डेंगू शॉक सिंड्रोम बुखार में ही जरूरत पड़ने पर प्लेटलेट्स चढ़ाई जाती हैं। अगर सही समय पर इलाज शुरू कर दिया जाए तो DSS और DHF का पूरा इलाज मुमकिन है।

कैसे फैलता है :-

डेंगू बुखार ( Dengue Fever ) से पीड़ित मरीज के खून में डेंगू वायरस बहुत ज्यादा मात्रा में होता है। जब कोई एडीज मच्छर डेंगू के किसी मरीज को काटता है तो वह उस मरीज का खून चूसता है। खून के साथ डेंगू वायरस भी मच्छर के शरीर में चला जाता है। जब डेंगू वायरस वाला वह मच्छर किसी और इंसान को काटता है तो उससे वह वायरस उस इंसान के शरीर में पहुंच जाता है, जिससे वह डेंगू वायरस से पीड़ित हो जाता है। काटे जाने के करीब 3-5 दिनों के बाद मरीज में डेंगू बुखार के लक्षण दिखने लगते हैं। शरीर में बीमारी पनपने की मियाद 3 से 10 दिनों की भी हो सकती है।

प्लेटलेट्स की भूमिका :-

आमतौर पर तंदुरुस्त आदमी के शरीर में डेढ़ से दो लाख प्लेटलेट्स होते हैं। प्लेटलेट्स बॉडी की ब्लीडिंग रोकने का काम करती हैं। अगर प्लेटलेट्स एक लाख से कम हो जाएं तो उसकी वजह डेंगू हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर प्लेटलेट्स का इंतजाम करने लगते हैं ताकि जरूरत पड़ते ही मरीज को प्लेटलेट्स चढ़ाए जा सकें। प्लेटलेट्स निकालने में तीन-चार घंटे लगते हैं।

आशा है कि आप सभी को डेंगू बुखार, Dengue Fever का लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

सर्दी के मौसम में गुड़ खाने के हैं ये 10 फायदे

ज्यादा पपीता खाने के नुकसान जानकर हो जायेंगे हैरान, Papita Khane Ke Nuksaan

रोजाना बादाम खाने के ये 10 फायदे जानकर दंग रह जायेंगे आप

एक महीने सुबह खाली पेट तुलसी के पत्ते खालो जड़ से समाप्त हो जायेंगे रोग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here