Home ग्रहण Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies |गर्भवती महिलायें न करें ये गलतियाँ

Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies |गर्भवती महिलायें न करें ये गलतियाँ

312
0
SHARE

Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies |गर्भवती महिलायें न करें ये गलतियाँ
5 june 2020 chandra grahan,5 जून 2020 चंद्रग्रहण, lunar eclipse 2020,chandra grahan,chandra grahan 2020, ग्रहण 2020, गर्भवती महिलाये ग्रहण के दौरान क्या करें क्या नहीं, गर्भवती महिलाये ग्रहण के दौरान जरूर बरतें ये सावधानियां, चंद्र ग्रहण गर्भवती महिला , Pregnancy Care During Grahan, Rule For Pregnat Lady in Grahan, Gharbhwati Mhilaye Grahan Me kya Kare, Grahan Me Kya Na Kare, preganancy in grahan, chandra grahan 2020 for pregnant ladies

Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies :- वर्ष 2020 में कुल 6 ग्रहण लगेंगे जिसमें से 2 सूर्यग्रहण और 4 चंद्रग्रहण होगें| साल के पहले महीने में 10 जनवरी 2020 को एक चंद्रग्रहण लग चुका हैं | 05 जून 2020 को साल का दूसरा चंद्रग्रहण लगने वाला है| यह उपच्छाया / मांद्य चंद्रग्रहण है| तो आइये जानते है  05 जून 2020 को पड़ने वाले उपच्छाया / मांद्य चंद्रग्रहण की पूरी जानकारी कि किस समय दिखाई दिखेगा और कहाँ दिखाई देगा|

दोस्तों 2020 का यह दूसरा चंद्रग्रहण भारत सहित यूरोप,अफ्रीका,ऑस्ट्रेलिया और एशिया में दिखाई देगा| यह चंद्रग्रहण 05 जून 2020 को रात 11 बजकर 15 मिनट से लेकर मध्य रात्रि उपरान्त 2 बजकर 34 मिनट तक चलेगा| इस चंद्रग्रहण की कुल अवधि 3 घंटा 19 मिनट तक होगी| 5 जून 2020 को उपच्छाया / मांद्य चंद्रग्रहण होगा। इसलिए इस ग्रहण को सरलता से नहीं देखा जा सकेगा। चूंकि इस ग्रहण में चंद्रमा का कोई हिस्सा नहीं छिपेगा, बल्कि चांद मटमैला सा दिखेगा। इसलिए ज्योतिष इस तरह के ग्रहण को ग्रहण नहीं कहते। इसकी धार्मिक मान्यता नहीं है। उपच्छाया चंद्र ग्रहण में सूतक का विचार नहीं किया जाता है, यानि इसमें किसी भी प्रकार का यम-नियम-सूतक आदि मान्य नहीं होगा|

5 जून 2020 चंद्रग्रहण (5 June 2020 lunar eclipse) के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए (Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies), आइए जानते हैं :-

1- ग्रहण के समय भगवान की मूर्तियों को स्पर्श न करें। ग्रहण खत्म होने पर स्वयं स्नान करने के बाद मूर्तियों को भी गंगा जल से स्नान कराने के पश्चात पूजा कर सकती हैं। चंद्र ग्रहण खत्म होने पर घर में गंगा जल का छिड़काव करें, जिससे नकारात्मकता दूर हो जाएगी। ग्रहण शुरू होने से पहले गर्भवती महिलाओं को तुलसी का पत्ता गंगा जल के साथ ग्रहण करना चाहिए।

2- चंद्रग्रहण के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को इसलिए बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी जाती क्योंकि ये माना जाता है कि इससे पैदा होने वाला बच्चा या तो दिव्यांग होता है या फिर वह मानसिक तौर पर विकसित नहीं होता। साथ ही चंद्रग्रहण को नंगी आंखों से भी नहीं देखना चाहिए वरना जच्चा और बच्चा दोनों को हानि हो सकती हैं।

3- प्रेगनेंट महिलाओं को चंद्रग्रहण के दौरान कुछ खाने पीने की अनुमति नहीं होती है । लेकिन यह स्तिथि गंभीर रूप ले सकती है। शरीर में पानी की कमी हो सकती है जिससे जलन, सिरदर्द और चक्कर आ सकते हैं। ग्रहण शुरू होने से पहले अपने खाने और पीने की चीजों में तुलसी का पत्ता या कुशा घास डाल लें,  इससे आपके भोजन और जल पर ग्रहण पर दोष नहीं लगता है|

4- ग्रहण खत्म होने के बाद ही स्नान करें। ग्रहण काल में स्नान करना वर्जित है।

5- ग्रहणकाल में गर्भवती महिलाओं को नुकीली वस्तुएं जैसे कैंची, सुई या चाकू का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। गर्भावस्था में ग्रहण काल के दौरान कपड़ों की सिलाई को वर्जित माना गया है।

6. चंद्र ग्रहण के समय नकारात्मकता को दूर करने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने पास एक नारियल रखना चाहिए।

 7. ग्रहण काल के दौरान गर्भवती महिलाओं को भगवान का स्मरण करना चाहिए या अपने इष्ट देव या गुरु का मंत्र जाप करना चाहिए| ग्रहण के समय धार्मिक किताब जैसे रामायण, गीता, सुंदरकांड आदि का पाठ करना चाहिए इससे भगवान आपकी और आपके होने वाले बच्चे की रक्षा करते है|

हालांकि सलाह यही है कि चंद्रग्रहण के दौरान सावधानियां बरतने के चक्कर में गर्भवती महिलाएं कुछ ऐसा न करें जिससे भारी नुकसान हो। इसलिए बताए गए दिशा-निर्देशों या धारणाओं को मानने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें और जरूरी सलाह लें। कोई भी ऐसा काम न करें जिससे खुद या भी गर्भ में पल रहे बच्चे की सेहत पर बुरा असर पड़े।

आशा है कि आप सभी को चंद्रग्रहण के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को क्या करना चाहिए और क्या नहीं (Chandra Grahan 2020 For Pregnant Ladies) का यह लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

05 जुलाई 2020 चंद्र ग्रहण, जानें किस समय और कहाँ-कहाँ दिखाई देगा, सम्पूर्ण जानकारी

05 जून 2020 चंद्र ग्रहण, जानें किस समय और कहाँ दिखाई देगा, सम्पूर्ण जानकारी

Grahan 2020 List : साल 2020 में कब और कितने ग्रहण होंगे, पूरी जानकारी

ग्रहण के समय गर्भवती महिलाये क्या करें क्या ना करें

इस दिशा में घड़ी लगाने से होता है भारी नुकसान

2020 रक्षाबंधन तिथि व राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, Raksha Bandhan 2020 Date

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here