Home ग्रहण सूर्य ग्रहण 2019: गर्भवती महिलाएं इन बातों का रखें ध्यान और बरतें...

सूर्य ग्रहण 2019: गर्भवती महिलाएं इन बातों का रखें ध्यान और बरतें सावधानियां, 26 December 2019 Surya Grahan

257
0
SHARE

सूर्य ग्रहण 2019: गर्भवती महिलाएं इन बातों का रखें ध्यान और बरतें सावधानियां, 26 December 2019 Surya Grahan

26 December 2019 Surya Grahan :- साल 2019 अपने अंतिम पड़ाव की ओर है। 2019 के खत्म होने के आखिरी दिनों में सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) लगने जा रहा है। यह ग्रहण 26 दिसंबर को होगा। ये सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा जिसमें सूर्य अंगूठी की तरह दिखेगा। जहां साल के आखिरी दिन में सूर्य ग्रहण लगेगा वहीं नए साल 2020 में 10 जनवरी को ही साल का पहला ग्रहण भी लगेगा। यह ग्रहण चंद्र ग्रहण होगा। चंद्र ग्रहण 10 जनवरी की रात को 10 बजकर 37 मिनट से ग्रहण लगना शुरू हो जाएगा। वर्ष का तीसरा और अंतिम सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर 2019 को लगेगा। यह वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा, जो भारतीय समयानुसार सुबह 08:17 से लेकर 10: 57 बजे तक रहेगा। यह ग्रहण भारत के साथ पूर्वी यूरोप, एशिया, उत्तरी/पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया और पूर्वी अफ्रीका में दिखाई देगा। वर्ष 2019 का अंतिम और एक मात्र सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई देगा, इसलिए यहाँ पर इस ग्रहण का सूतक भी लागू होगा। सूर्य ग्रहण का सूतक काल 25 दिसंबर 2019 को शाम 05:33 से प्रारंभ होकर 26 दिसंबर 2019 को सुबह 10:57 बजे तक रहेगा।

सूर्यग्रहण के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को क्या करना चाहिए, आइए जानते हैं :-

1- कहा जाता है कि प्रेगनेंसी में महिलाओं को सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के वक्त घर के अंदर ही रहना चाहिए और ग्रहण को नंगी आंखों से नहीं देखना चाहिए।

2- देश के कुछ हिस्सों में प्रेगनेंट महिलाओं को सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान तो कुछ खाने ही दिया जाता है और न ही पानी पीने दिया जाता है। लेकिन यह स्थति गंभीर रूप ले सकती है। शरीर में पानी की कमी हो सकती है जिससे जलन, सिरदर्द और चक्कर आ सकते हैं।

3- सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को इसलिए बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी जाती क्योंकि माना जाता है कि इससे पैदा होने वाला बच्चा या तो दिव्यांग होता है या फिर वह मानसिक तौर पर विकसित नहीं होता। हालांकि इस धारणा को लेकर भी कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है।

4- सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान कोई और नहाए या न नहाए लेकिन गर्भवती महिलाओं को खासतौर से नहाने के लिए कहा जाता है। ऐसी धारणा है कि इससे सूर्य की हानिकारक किरणें (अगर उन पर पड़ी हों तो) निकल जाती हैं और नेगेटिव एनर्जी भी दूर हो जाती है।

5- सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) शुरू होने से पहले भी प्रेगनेंट महिलाओं को नहाने के लिए कहा जाता है।

6- गर्भवती महिलाओं को सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान नुकीली चीजों जैसे कि चाकू, पिन या सुई का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

7- हालांकि सलाह यही है कि सूर्य ग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान सावधानियां बरतने के चक्कर में गर्भवती महिलाएं कुछ ऐसा न करें जिससे भारी नुकसान हो। इसलिए बताए गए दिशा-निर्देशों या धारणाओं को मानने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें और जरूरी सलाह लें। कोई भी ऐसा काम न करें जिससे खुद या भी गर्भ में पल रहे बच्चे की सेहत पर बुरा असर पड़े।

आशा है कि आप सभी को सूर्यग्रहण ( Surya Grahan ) के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं को क्या करना चाहिए का यह लेख पसंद आया होगा| इस आर्टिकल को अधिक से अधिक फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करें और आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट करके अवश्य बताये| इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें|

अन्य पढ़े :-

10-11 जनवरी 2020 चंद्र ग्रहण, जानें किस समय और कहाँ दिखाई देगा, सम्पूर्ण जानकारी

ग्रहण के समय गर्भवती महिलाये क्या करें क्या ना करें

पूजा में आरती करने की सही विधि, Aarti Kaise Kare

इस दिशा में घड़ी लगाने से होता है भारी नुकसान

घर में तिजोरी रखे इस दिशा में छप्पर फाड़ कर बरसेगा पैसा

सुहागन महिलायें गलती से भी किसी के साथ शेयर न करें अपनी ये चीजें वरना….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here